टारगेट पर लगाइए टाइम-एनर्जी

टारगेट पर लगाइए टाइम-एनर्जी

संयमित जीवन शैली और कुछ निर्धारित पैमानों के आधार पर जीवन जीने की कोशिश करने वाले ही अपने करिअर में सफल होते हैं. जीवन में घटित होने वाली सभी घटनाओं की जिम्मेदारी खुद लेनी चाहिए न कि माता-पिता, दोस्तों या रिश्तेदार को जिम्मेदार ठहराना चाहिए. 'मैं कर सकता हूं', एटीट्यूड के साथ जीवन में आगे बढ़ें, जरूर सक्सेस होंगे.

प्राथमिकताओं पर फोकस :-
जीवन में सब कुछ एक साथ नहीं किया जा सकता. इसलिए कभी-कभी न कहना भी सीखें. करिअर के लिए अपनी प्राथमिकता तय कीजिये और उस पर अमल कीजिए. अपने समय और ऊर्जा का अधिकांश हिस्सा महत्वपूर्ण प्राथमिकताओं पर ही खर्च करें.

➥ सही निर्णय :-
करिअर में आगे बढ़ने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होता है सही समय पर सही निर्णय लेना. इसके लिए अपने टाइम और एनर्जी पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है. इसलिए लक्ष्यों से जुड़े कार्यों में ही एनर्जी लगाइए. जिस काम से कोई लेना देना नहीं हैं वहां एनर्जी बर्बाद कर समय न गंवाए.

➥ रिजल्ट पर रखें नजर :-
अगर आप किसी कार्य की शुरुआत करते हैं तो हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि इसका परिणाम क्या होगा. सफलता के लिए यह बहुत ही आवश्यक है. परिणाम पर ध्यान नहीं रहेगा तो न अपने मनमुताबिक कार्य कर
सकेंगे, न ही दूसरे व्यक्ति को अपने कार्यों से प्रभावित कर सकेंगे.

➥ अतीत में न उलझें :- 
जो समय आपके हाथ से निकल चुका है, उसके विषय में सोचकर समय बर्बाद न करें. सिर्फ उससे सबक लेना चाहिए. अतीत में कुछ ऐसे कार्य किये हैं जिनके सुखद परिणाम रहे हों, उसके अनुरूप कार्य करें. दुखद परिणाम वाले कार्यों में कार्य नहीं करने की कसम खाएं.

➥ प्रैक्टिकल बनें :- 
अधिकांश छात्र सोचते हैं कि जितनी अधिक से अधिक किताबें पढ़ ली जाए, उतना ही नॉलेज होगा और हम अपने लक्ष्यों तक आसानी से पहुंच जाएंगे. बेशक, किताबें ज्ञान बढ़ाती हैं, लेकिन सिर्फ किताबी ज्ञान के आधार पर करिअर में पूर्ण सफलता नहीं मिल सकती. सफलता के लिए ऐसी जीवन शैली अपनाएं जिसमें व्यावहारिकता को तरजीह दी जाती हो. कुल मिलाकर प्रैक्टिकल बातों पर गौर करें.

➥ समय का सही प्रबंधन :-
एक नियमित दिनचर्या के पालन और सही समय प्रबंधन द्वारा किसी भी टारगेट को प्राप्त किया जा सकता है.

➥ नेचर मुताबिक मित्र बनाएं :-
व्यक्तित्व के विकास में साथी मित्रों की भूमिका भी बहुत महत्वपूर्ण होती है. इसलिए अपनी प्रकृति से मिलते-जुलते लोगों के साथ ही मित्रता करें. यह भी गौर करना चाहिए कि आपके साथी मित्र आपके करिअर की सफलता में कितना मददगार साबित हो सकते हैं. विपरीत प्रकृति के लोग कार्यों में बाधा उत्पन्न कर सकते हैं.

➥ उद्देश्य सुनिश्चित करें :-
बिना किसी उद्देश्य की जिन्दगी दिशाहीन होकर बस यूं ही चलती जाती है. एक सफल करिअर के लिए
अपना एक निश्चित उद्देश्य रखें तथा उसी के अनुरूप कार्य करें. अगर उद्देश्य बड़ा है तो उसे प्राप्त करने की प्रक्रिया को छोटे-छोटे कार्यों में विभाजित कर उसके अनुकूल, कार्य करें.

➥ पॉजिटिव फीलिंग्स रखें :-
करिअर में सफलता के लिए पॉजिटिव फीलिंग्स रखने के साथ क्रिएटिविटी पर ध्यान देना चाहिए. हर किसी में कुछ गुण तथा कुछ अवगुण होते हैं. गुणों को अपनाकर अवगुण को त्याग दीजिये. ऐसा करने से हमेशा
पॉजिटिव फीलिंग्स से लबरेज रहेंगे. इससे सफलता के मार्ग के रोड़े खुद ब खुद समाप्त हो जाएंगे.

Post a Comment

0 Comments